इलेक्ट्रिक वाहनों की कीमतें छुएगी आसमान, सरकार ले सकती है बड़ा फैसला..! जानिए

ऐसी ही और न्यूज़ के लिए निचे हमारे व्हाट्सप्प और टेलीग्राम को ज्वाइन करें

व्हाट्सप्प ग्रुप में जुड़ Join Now
टेलीग्राम ग्रुप में जुड़ Join Now

भारत में इलेक्ट्रिक वाहनों की संख्या आए-दिन बढ़ती ही जा रही हैं, और सरकार का Electric Vehicles की संख्या को बढ़ाने में महत्वपूर्ण हाथ हैं, ताकि देश में बढ़ रहे प्रदूषण को कम किया जा सके. हालही में यह खबर सामने आ रही हैं की भारत में Electric Vehicles की कीमतों में बढ़ोतरी देखने को मिल सकती हैं.

सरकार दें रही कम्पनी को सब्सिडी?

सरकार ने भारत में इलेक्ट्रिक वाहन का स्टेशन आने वाले समय में करीब डेढ़ करोड़ से ज्यादा बढ़ाने की ठानी हैं. दरअसल सरकार देश की सभी Electric Vehicles कंपनियों को कई प्रकार की सब्सिडी देती हैं, इस कारण इन इलेक्ट्रिक वाहनों की कीमत कम हो जाती हैं. मिडिया रिपोटर्स के अनुसार सभी दो पहिया वाहन निर्माता कंपनियों को सरकार सरकार द्वारा लगभग 40% की सब्सिडी दी जाती थी. लेकिन अब इसे घटा कर मात्र 15% कर दी जाएगी. इस बात पर सरकार द्वारा आए-दिन खास मीटिंग रखी जा रही हैं, जिसका फैसला बहुत जल्द सामने आ सकता हैं.

उद्योग मंत्रालय की शिफारिश?

भारत में सभी बड़े उद्योगों का देख-रेख और इससे जुड़े सभी बड़े-छोटे फैसले भी केंद्रीय उद्योग मंत्रालय द्वारा ही लिए जाते हैं. ऐसे में केंद्रीय उद्योग मंत्रालय ने उच्च-स्तरीय अंतर-मंत्रालयी पेनल को शिफारिश भेज दी हैं, परन्तु अब इसके अंतिम फैसले का इंतजार किया जा रहा हैं. अगर शिफारिश के तहत अंतिम मुहर लगाई गई तो देश के सभी इलेक्ट्रिक वाहनों पर मिलने वाली सब्सिडी 40% से घटा कर 15% कर दी जाएगी, जिसके कारण इलेक्ट्रिक टू-व्हीलर वाहनों की कीमतों में भारी उछाल देखने को मिल सकता हैं.

मार्केट के सेल में होगी तेजी से गिरावट?

यदि इलेक्ट्रिक वाहनों की कीमतों में बढ़ोतरी होती हैं तो सरकार ने जो 2.50 करोड़ Electric Vehicles को भारतीय सड़कों पर उतारने का सपना चकना-चूर होता नजर आएगा. ऐसा इस लिए होगा क्यूंकि यदि इलेक्ट्रिक वाहनों की कीमत बढ़ती हैं तो आम आदमी और देश के कई लोग इन इलेक्ट्रिक स्कूटर्स को नही खरीद पाएंगे, इससे मार्केट में इलेक्ट्रिक वाहनों की जितनी तेजी से बिक्री हो रही हैं उतनी तेजी से बिक्री में गिरावट देखने को भी मिल सकती हैं.